अगस्त 2017
अंक - 29 | कुल अंक - 55
प्रज्ञा प्रकाशन, सांचोर द्वारा प्रकाशित

प्रधान संपादक : के.पी. 'अनमोल'
संस्थापक एवं संपादक: प्रीति 'अज्ञात'
तकनीकी संपादक : मोहम्मद इमरान खान

हाइकु

हाइकु


ओस बताती
अकेले में कितनी
रिसी है रात



तुम क्या जानो
भीतर बरसती
जो बरसात



सिसका चूल्हा
खाली सब बर्तन
पेट में आग


मैं बीता किया
वक्त के साथ-साथ
मोमबत्ती ज्यों



नरम धूप
उतरी आंगन में
अलसाई-सी



प्यारी बिटिया
माँग कर मन्नत
लौटी घर को

 

लौटी बिटिया
ससुराल से घर
ख़ुशियाँ आईं



सूखे अधर
आलम तनहाई
करते बयां



संवाद हीन
भटक रहे शब्द
ढूंढें अर्थों को



फिर से लौटी
इक उदास शाम
बस्ती ग़रीब


- डाॅ. आरती बंसल

रचनाकार परिचय
डाॅ. आरती बंसल

पत्रिका में आपका योगदान . . .
हाइकु (1)