हस्ताक्षर : मासिक साहित्यिक वेब पत्रिका

नवम्बर 2019
अंक - 54 | कुल अंक - 54
प्रज्ञा प्रकाशन, सांचोर द्वारा प्रकाशित

प्रधान संपादक : के.पी. 'अनमोल'
संस्थापक एवं संपादक: प्रीति 'अज्ञात'
तकनीकी संपादक : मोहम्मद इमरान खान

कर्म, धर्म और शर्म के बदलते मर्म
कर्म, धर्म और शर्म के बदलते मर्म    अयोध्या विवादित भूमि मामले में उच्चतम न्यायालय का निर्णय आ जाने के पश्चात् जब सरकार ने अपनी पीठ थपथपा शाबाशी समेटनी प्रारंभ कर दी थी और मंदिर के पहले से ही तैयार नक़्शे चैनलों पर रंग बिखेरने लगे थे; तब आम आदमी ने यह सोच चैन की साँस ली कि चलो, आस्था की चाशनी से लबरेज़ वर्षों से चला आ रहा विवाद अंततः शांतिपूर्ण ढंग से सुलझ गया। यद्यपि कुछ लोग इस निर्णय से प्रसन्न नहीं हैं और कुछ वहाँ विद्यालय, अस्पताल बनवाने की माँग कर रहे हैं। लेकिन अब इतने वर्षों से खींचे जा रहे इस मामले को देखने वाला प्रत्येक भारतीय अच्छे से समझने लगा है कि राजनीति, आस्थाओं को स्वहित में भुनाने में अधिक विश्वास रखती ....

Share
इस अंक में ......

आवरण: अमन चाँदपुरी

हस्ताक्षर
कविता-कानन
ग़ज़ल-गाँव
गीत-गंगा
कथा-कुसुम
विमर्श
छंद-संसार
जो दिल कहे
स्मृति
मूल्यांकन
धरोहर
हाइकु
उभरते स्वर
संदेश-पत्र
ज़रा सोचिए!
यादें!
'अच्छा' भी होता है!
फ़िल्म समीक्षा
जयतु संस्कृतम्
धारावाहिक